Software क्या हैं? What is Software In Hindi

Software को किसी भी Computer या Mobile की आत्मा कहा जाता है। जैसे आप जानते हैं हमारी आत्मा दिखाई नही देती वैसे ही हमे Software भी दिखाई नहीं देती, कंप्यूटर को किसी भी तरह का काम करने के लिए Software की जरूरत पडती है। बिना Software के Computer एक बेजान सी चीज़ है।

दोस्तों हम सब Computer पर जो भी काम करते है जैसे कोई फ़ाइल बनाते है, या Documents बनाते है, या गाना सुनते है, वीडियो बनाते है ये सभी काम हम सॉफ्टवेयर की मदद से ही कर पाते है।

अगर आप जानना चाहते है कि Software kya hai, तो आप सही जगह पर हैं हम आपको बताएँगे कि What is Computer Software in Hindi, Software Ka Matlab Kya Hota Hai, तो दोस्तों सॉफ्टवेयर की जानकारी हिंदी में पाने के लिए, हमारे इस post को अंत तक ज़रूर पढ़ें।

तो चलिये शुरु करते हैं।….

VPN क्या है? इससे Block Website और Apps को यूज़ करे

सॉफ्टवेयर क्या हैं? – What is Software In Hindisoftware-kya-hota-hai

सॉफ्टवेयर : बहुत सारे Programs का एक Collection होता हैं जो कंप्यूटर को निर्देश प्रदान करता है कि क्या और कैसे करना है। अर्थात् सॉफ्टवेयर उपयोगकर्ता और कंप्यूटर के बीच इंटरफेस का काम करता है। यह निर्देशों का एक सेट होता है, जो Hardware को कमांड देने के लिए उपयोग किए जाते हैं। इसके द्वारा हमे आउटपुट मिलते है।

हम जितने भी Task करते हैं वे सभी सॉफ्टवेयर की Help से ही किये जाते हैं। Software उन Set of Instruction को refer करता हैं जिनको Program के फ़ोर्म मे fed किया जाता हैं।

अगर हम बात करें, सॉफ्टवेयर के Full Form की तो आपको बता दे सॉफ्टवेयर का कोई फुल फॉर्म ही नहीं है, सॉफ्टवेयर को हिंदी में भी Computer Software ही कहा जाता हैं। इसे पढ़कर आपको इतना समझ आ गया होगा कि सॉफ्टवेयर का मतलब क्या होता है? आगे अब हम आपको सॉफ्टवेयर की पूरी जानकारी हिंदी में बताने जा रहे है।

ये कुछ सॉफ्टवेयर के उदाहरण है जिन्हे हर कोई जानता हैं।

  • MS-Word
  • Google Chrome
  • Adobe Photoshop
  • VLC Player
  • UC Browser

सॉफ्टवेयर की परिभाषा क्या है? (Definition of Software in Hindi)

Set of Instruction Codes या Program के Collection को सॉफ्टवेयर कहते हैं ये Computer को User को इस्तमाल करने लायक बनाते हैं।

कंप्यूटर के Hardware को संचालित करने के लिए विभिन्न प्रकार के निर्देशों के सेट Codes अर्थात् Computer Programs का उपयोग होता है, जिसे हम “Software” कहते है। जो एक कंप्यूटर को बताता है कि क्या करना है या कैसे कार्य करना है। इसका उदाहरण कंप्यूटर पर सभी सॉफ्टवेयर, अनुप्रयोगों और ऑपरेटिंग सिस्टम इत्यादि।

Software के प्रकार – Types of Software

  1. सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software)
  2. अनुप्रयोग सॉफ्टवेयर (Application Software)
  3. यूटिलिटी सॉफ़्टवेयर (Utility Software)

1. सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software): वो सॉफ्टवेयर होते हैं जो Computer के Background मे होने वाले काम को समभालते हैं। इसको System सॉफ्टवेयर इस लिये भी कहा जाता हैं क्यिकि ये Computer को Run करने मे मदद  करते हैं। इनकी Help से Computer दुसरे Components जैसे Hardware, को Operate करने मे सछम होता हैं। आप किसी भी तरह का Software Install करते हैं उनको Program ही चलाता हैं। अगर हम System सॉफ्टवेयर की बात करे तो ये कई प्र्कार के होते है, जिसे हम लोग Operating System के नाम से भी जानते हैं।

उदाहरण

  1. ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System)
  2. असम्ब्लेर (Assembler)
  3. कम्पाइलर (Compiler)
  4. इंटरप्रेटर (Interpreter)

2. Application Software :  ये एक तरह का प्रोग्रामों का एक समूह है जिसे किसी कार्य, जैसे Learning, personal या professional कार्य आदि को करने के लिए Application Software का use किया जाता है। एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर के कई उदाहरण हैं –

  • फोटोशॉप (Photoshop)
  • पेजमेकर (PageMaker)
  • पावर पॉइंट (Power Point)
  • एम एस वर्ड (MS WordMS Word)
  • एम एस एक्सेल (MS Excel)

3. यूटिलिटी सॉफ़्टवेयर (Utility Software): इस तरह प्रोग्राम को किसी भी Computer को और बेहतर तरीके से कार्य करने में मदद मिलती है । यूटिलिटी सॉफ्टवेयर कंप्‍यूटर के Operating System को सुधारने का काम करता है। यह कंप्यूटर के कार्य को आसान बना देता है तथा सिस्टम को विभिन्न तरीके से सुरक्षित भी रखता है।

हमने ये तो जान लिया सॉफ्टवेयर क्या हैं। और कैसे काम करता हैं और अब हम ये जानेगे अखिर ये कैसे बनता हैं।

सॉफ्टवेयर कैसे बनाते हैं – How to Create a Computer Program in Hindi?

कम्प्यूटर का सॉफ्टवेयर बनाना थोडा-सा आपके लिये कठिन कार्य हो सकता हैं। क्योंकि इस कार्य को करने के लिए आपके पास जरूरी Programming Languages की अच्छी जानकारी और बहुत सारा धैर्य होना जरूरी हैं। तभी आप एक पेशेवर सॉफ़्टवेयर डवलपर बन सकते हैं। पर कोई भी काम नमुम्किन नही होता अगर आप उसे करने की ठान लेते हैं।

किसी भी तरह के सॉफ्टवेयर को बनाने के लिए Programing Language की जरुरत होती हैं। और इसी लिये कई तरह की Programing Language का विकास किया गया हैं. जिनके द्वारा आप अलग-अलग जरुरत के लिए सॉफ्टवेयर बना सकते हैं।

अगर आपभी सॉफ्टवेयर बनाना चाहते है और सिखना चाहते हैं तो इसके लिये आपको Programing Languages का पता होना चाहिये, इसके लिये आप कुछ असानी से सिखी जाने वाली Programing Language को सीख सकते हैं। और Computer Coding में अपना हाथ आजमा सकते हैं. जैसे C, C++, Java 

ये कुछ Software है जिनको लगभग हर कोई इस्तेमाल  करता हैं…..

कुछ सॉफ्टवेयर का नाम तथा उनका काम

सॉफ्टवेयर का नाम सॉफ्टवेयर का काम सॉफ्टवेयर का प्रकार
AVG, McAfee, Norton कम्प्यूटर की सुरक्षा एंटीवायरस प्रोग्राम
VLC, Windows Music Player आवाज सुनाना साउंड प्रोग्राम्स
Computer Drivers हार्डवेयर कम्युनिकेशन यूटिलिटी
Gmail, Outlook, Thunderbird ईमेल संचार
Chrome, Firefox, Edge इंटरने ब्राउजिंग वेब ब्राउजर
Paint, Photoshop ग्राफिक संभालना ग्राफिक सॉफ्टवेयर
Word, Notepad, WordPad विभिन्न डॉक्युमेंट्स बनाना वर्ड एडिटर
MS Excel स्प्रेडशीट्स बनाना स्प्रेडशीट प्रोग्राम
Presentation प्रेजेंटेशन, स्लाइड्स बनाना प्रेजेंटेशन प्रोग्राम

 

नया क्या सीखा?

इस लेख में हमने आपको सॉफ्टवेयर क्या है? Computer Software के  प्रकार और उनके नाम आदि की पूरी जानकारी दी हैं और सॉफ्टवेयर कैसे बनाते हैं येे सब जाना हैैं । हमे उम्मीद है कि यह लेख आपको पसंद आएगा और आपके लिए उपयोगी साबित होगा. यदि आपको सॉफ्टवेयर के बारे में कुछ भी समझ ना आए तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.