Demand Draft क्या है ? Demand Draft कैसे बनाते है Full Details

Demand Draft Kya hai ? Demand Draft Kaise Banaye ?, ऐसे कुछ सवाल अक्सर हर किसी के मन मे उत्पन्न होते है। इसके अलावा Demand Draft or Cheque Me Difference को भी जानकार व्यक्ति समझ नही पाता है। तो डिमांड ड्राफ्ट के विषय मे हम आपको पूरी जानकारी ( Demand Draft Ki Puri Jankari ) समझने वाले है तो आइए जाने What Is Demand Draft In Hindi Full Details.

Demand Draft Kya Hota Hai ?

डिमांड ड्राफ्ट को हम DD से भी जानते है, बैंक अपने कामकाज में ( पैसों के लेनदेन ) कई प्रकार के तरीकों का उपयोग कर अपने ग्राहकों को सेवा देती है उसके अलग अलग तरीको जैसे कि Cheque, Online Transaction, या नकद राशि का प्रयोग करती है। इन तरीकों के अलावा एक तरीका Demand Draft भी है। जो Cheque के समान ही होता है। जिसे Demand Draft या DD से जाना जाता है।

Demand Draft SBI

Demand Draft Ka Short Form यानी कि Dimand Draft को शोर्ट में DD से भी जाना जाता है। बैंक द्वारा आदान प्रदान का यह तरीका सबसे बहेतर और सुरक्षित माना जाता है। यह तरीका चेक से कुछ कुछ समान होता है परंतु चेक से काफी बहेतर होता है फिर भी लोग Demand Draft or Cheque Me Kya Antar Hai ? यह समझ नही पाते तो आइए समझते है What Is Differences Between Demand Draft And Cheque.

Demand Draft Or Cheque Me Antar In Hindi.

डिमांड ड्राफ्ट और चेक में समानता सिर्फ एक चीज में ही है कि दोनों काजग का एक पन्ना है और दोनों को भरकर बैंक को देना है। पर इसके अलावा कुछ ऐसे कारणों से अलग है जो निम्नलिखित है।

  1. – Cheque का उपयोग करने के लिए आपका उसी बैंक में एकाउंट होना जरूरी है। पर Demand Draft यानी कि DD के लिए आपका उस बैंक में एकाउंट होना जरूरी नही है।
  2. – Cheque के द्वारा व्यक्ति पैसा ले सकता है, पैसे जमा नही कर सकता जबकि डिमांड ड्राफ्ट से व्यक्ति को DD के साथ पैसे बैंक में देने होते है।
  3. – Cheque द्वारा पैसे Bank Account से Bank Account में ट्रांसफर हो जाते है जबकि DD में पैसे व्यक्ति से एकाउंट में नकद ट्रांसफर होते है।
  4. – अक्सर देखा गया है कि Cheque देने पर वह Cheque बाउंस हो जाता है। पर डिमांड ड्राफ्ट में ऐसा बिलकुल नही होता क्योंकि पैसे Demand Draft के साथ ही नकद ले लिए जाते है।
  5. – Cheque कभी कभी मुसीबत भी साबित हो जाता है जब यह गुम या गिर जाये। तब आपके Bank Account से पैसे निकल सकते है। पर Demand Draft में इस प्रकार की कोई परेशानी का सामना नही करना पड़ता।
  6. – Demand Draft का भुगतान आप Cheque से कर सकता है पर Cheque का भुगतान डिमांड ड्राफ्ट द्वारा सम्भव नही है।

तो आप ऊपर बताये कुछ कारणों से यह जान चुके होंगे कि Cheque के मुकाबले Demand Draft की खासियत क्या है और चेक के मुकाबले कितना सुरक्षित है। आये अब समझे कि Demand Draft का उपयोग क्या है।

Demand Draft Ka Upyog : 

Demand Draft Uses In Hindi: आजकल DD का उपयोग सरकारी विभाग और संस्थानों में ज्यादा किया जाता है। Sarkari Job के Requirement में आपने अक्सर आवेदन फ़ीस डिमांड ड्राफ्ट द्वारा चुकाने और आवेदन के साथ मे डिमांड ड्राफ्ट भेजने के लिए बोला जाता है। जिससे वह विभाग या संस्था मिलान कर सके कि है आवेदक दे पैसे जमा करवाये हुए है।

कोई व्यक्ति जिसके पास बैंक एकाउंट ना हो किसी अन्य व्यक्ति को भी DD कर उसके बैंक खाते में पैसे दे सकता है पर यह क्रिया हमे आमतौर पर दिखाई नही देती क्योकि आजकल सबसे पास अपना बैंक एकाउंट है।

Demand Draft Kaise Banaye ? : 

डिमांड ड्राफ्ट को आप किसी भी बैंक द्वारा ऑफलाइन या ऑनलाइन बनवा सकते है। वैसे तो डिमांड ड्राफ्ट किसी भी बैंक द्वारा बनाया जा सकता है पर कोई कोई संस्था किसी खास बैंक द्वारा भुगतान कराने पर जोर देती है। DD को पोस्ट ऑफिस द्वारा भी बनवा सकते है। आये समझे डिमांड ड्राफ्ट को ऑनलाइन या ऑफलाइन कैसे बना सकते है।

DD बनवाने का ऑफलाइन तरीका :

यह तरीका वैसे तो बहुत आसान है परंतु के लोग इससे अनजान है इसलिए आइये हम जानते है How To Make Offline Demand Draft In Hindi.

स्टेप 1: सबसे पहले आप बैंक में जाये और डिमांड ड्राफ्ट भरने की पर्ची हासिल करें।

स्टेप 2: पर्ची पर उस विभाग या संस्थान का नाम, पता सही से लिखे, यह भी लिखे की आप यहाँ कितनी राशि देना चाहते है, आप इस राशि को अंक और शब्दों में सही से लिखे।

स्टेप 3: इतना करने के बाद बैंक कैशियर के पास जाए और पर्ची और उतने पैसे तथा अन्य बैंक चार्ज जमा करदे।

( अगर आपका उस बैंक में एकाउंट है तो आप cheque का भी प्रयोग कर सकते है अन्यथा नकद राशि दे। )

स्टेप 4: अब कैशियर वह पैसे लेकर आपको Demand Draft ( DD ) बनाकर आपको दे देता है जिसमे दो हिस्से होते है।

एक हिस्सा आपको आवेदन भेजते वक्त जोड़कर देना होता है जबकि दूसरा हिस्सा आप रसीद के तौर पर अपने पास रख सकते है।

DD बनवाने का ऑनलाइन तरीका :

आज कल आप ऑनलाइन माध्यम द्वारा भी डिमांड ड्राफ्ट को ऑनलाइन भी बनवा सकते है जैसे ऑफलाइन प्रोसेस है वैसे ही ऑनलाईन प्रोसेस होती है पर आपको इसके लिए बैंक में जाने की कोई जरूरत नही होती आप घरबैठे DD बनवा सकते है आइये समझे यह प्रोसेस। ( How To Make Demand Draft In Hindi )

Note: Online Demand Draft बनाने के लिए आपके पास इंटरनेट बैंकिंग होना आवश्यक है।ज्यादातर सभी के पास SBI Bank Account है इस लिए हम इसी बैंक का ही उदाहरण देंगे।

स्टेप 1: सबसे पहले आपको अपने इंटरनेट बैंकिंग में दाखिल होना होगा।

स्टेप 2: जब यहाँ आप दाखिल हो जाते है तो आप यहाँ से Payment कर सकते है इसके लिए आप Payment/Transfer पर क्लिक करे।

स्टेप 3: इस विकल्प में ही आपको अलग अलग तरीक़े दिखेंगे जिससे आप पेमेंट कर सको। यहाँ Issue Demand Draft का विकल्प नजर आएगा आपको यहाँ पर क्लिक करना है।

स्टेप 4: जैसे ही आप यहाँ पर क्लिक करते है एक नया पेज ओपन होगा जहां

से आप डिमांड ड्राफ्ट बनवा सकते है।

स्टेप 5: पर आपको इससे पहले अपना Profile Password देना होगा। Profile Password देना होगा।

स्टेप 6: अब आप डिमांड ड्राफ्ट बनवाने के लिए पेज पर आ चुके होंगे।

स्टेप 7: यहाँ आपको सबसे पहले DD बनाने की लिमिट देख ले अगर कम है तो आप Change Limit पर क्लिक करना होगा।

स्टेप 8: आपको फिर से Profile Password देकर Submit पर क्लिक करना होगा।

स्टेप 9: आप दिन की लिमिट सेट करले और सबमिट बटन पर क्लिक करे ( आप 1 दिन का ज्यादा से ज्यादा 500000 ( 5 लाख ) तक का डिमांड इश्यू कर सकते है।

स्टेप 10: फिर से आप डिमांड ड्राफ्ट के पेज पर पहोच जायेंगे। यहां चुने।

  • – अपना बैंक एकाउंट (अगर एक से ज्यादा है तो)
  • – कितना पैसा DD बनाने के लिए दे रहे है।
  • – जिसको आप DD Ishue करना चाहते है उसका नाम।
  • – चयन करें कि DD Issue करने का उद्देश्य क्या है।
  • – बैंक ब्रांच कॉड दे जहाँ पर आप पैसे दे रहे है।
  • – बैंक ब्रांच कॉड दे जहाँ आपको पैसे जमा करने है।
  • – अब नीचे की ओर आपको Collecting Personal और Courier इन 2 विकल्प के से कोई एक चुनना होगा, Submit बटन पर क्लिक करना है।

( Collecting Personal में आपको खुद बैंक में जाकर DD प्राप्त करना है जबकि Courier में आप By Post DD अपने घर मंगवा सकते है, जहाँ बैंक एकाउंट का पता ही मान्य होगा । पर इसके लिए आपको 50/- रुपये का अतिरिक्त चार्ज देना होगा।)

स्टेप 11 : Submit पर क्लिक करने पर आपके द्वारा भरी गयी सभी जानकारी एकबार फिर आपके सामने होगी। जिसमें बैंक चार्ज भी होगा। एकबार वेरीफाई कर आप Confirm बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 12: Confirm पर क्लिक करने पर बैंक द्वारा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP आयेगा जिसे आपको दिए गए बॉक्स में दे और नीचे दिए गए Confirm बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 13 : इतना करने पर आपके द्वारा Issue किया गया डिमांड ड्राफ्ट बन जाता है।

जाने : ऑनलाइन SBI बैंक एकाउंट कैसे बनाये ?

नोट- इतना करने पर ध्यान रहे कि अगर आपने Collecting Personal का विकल्प चुना है तो आपकोस स्लिप लेकर बैंक में जाना है स्लिप दिखानी है और DD प्राप्त करना हैं मगर Courier वाले विकल्प में आप पोस्ट द्वारा घर मंगवा सकते है।

सभी बैंकों की तरफ से Online Demand Draft बनवाने का तरीका लगभग एक जैसा ही होता है।

 निष्कर्ष :

Demand Draft क्या है ? और Demand Draft कैसे बनाते है ? यह विषय मे आपने पूरी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से समझी, आशा करते है कि यह जानकारी आपके लिए फायदेमंद साबित होगी और इससे आपको काफी मदद मिलेगी। अगर इस विषय मे आपके कोई सवाल है तो हमे जरूर कॉमेंट करे हम आपके सवालो का उत्तर देने का प्रयास करेंगे। पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद। आपका दिन शुभ रहे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.