राम मंदिर को लेकर प्रधानमंत्री मोदी का बड़ा बयान कहां कांग्रेश डाल रही है फैसले में अड़ंगा।

फैसले में देरी के लिए कांग्रेस के वकीलों को ठहराया जिम्मेदार

प्रधानमंत्री मोदी ने राम मंदिर मुद्दे पर स्वस्थ कानूनी प्रक्रिया के लिए कांग्रेसी नेता और उनके वकीलों को जिम्मेदार ठहराया है प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कांग्रेस के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर के मुद्दे पर सुनवाई में बाधा पैदा कर रहे हैं और उसे टालने की कोशिश कर रहे हैं राम मंदिर मुद्दे पर समाधान को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि हमने अपने बीजेपी मेनिफेस्टो में कहा था कि हम इस मुद्दे पर संवैधानिक तरीके से ही समाधान करेंगे और इसका समाधान संवैधानिक तरीके से ही निकाला जाएगा.

भारतीय जनता पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में कहा था कि वह हत्या में एक भव्य राम मंदिर का निर्माण करना चाहती है हाल में ही बीजेपी सहयोगी संगठन आर एस एस ने राम मंदिर निर्माण के लिए जल्द से जल्द कानून बनाने की मांग की है संघ के अलावा उसके सहयोगी दल शिवसेना ने भी अध्यादेश कोला का जल्दी से जल्दी राम मंदिर का निर्माण कराए जाने की मांग की है.