छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थान से मिट्टी लेकर अयोध्या रवाना हुए उद्धव ठाकरे

thakre

महाराष्ट्र: अयोध्‍या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर राजनीति गरमाती जा रही है. बीजेपी जहां लगातार इसे लेकर मुखर रही है, वहीं अन्‍य पार्टियां उस पर इस मुद्दे को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाती रही हैं|

इन्‍हीं में बीजेपी की सहयोगी रही शिवसेना का नाम भी शामिल है. इस बीच, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे राम मंदिर के निर्माण के लिए छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थान शिवनेरी किले से मिट्टी लेकर अयोध्‍या रवाना हो चुके हैं|

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे अयोध्‍या में पुजारियों और साधु-संतों के साथ बैठक कर राम मंदिर निर्माण की हुंकार भरेंगे. वह शनिवार को दो दिनों के लिए अयोध्या के दौरे पर पहुंच रहे हैं |

शिवसेना ने केंद्र में सत्‍तारूढ़ पार्टी पर अयोध्‍या में राम मंदिर के निर्माण को चुनावी मुद्दे के तौर पर इस्‍तेमाल करने का आरोप लगाते हुए 25 नवंबर को अयोध्‍या में विशाल जनसभा का ऐलान किया है |

शिवसेना अयोध्‍या कूच की तैयारी कर चुकी है. पार्टी को इसमें विश्व हिंदू परिषद का समर्थन भी मिल रहा है, जिसके नेता प्रवीण तोगड़‍िया पहले ही बीजेपी सरकार से नाराजगी जता चुके हैं. वीएचपी ने अयोध्या में 25 नवंबर को धर्मसभा के आयोजन की घोषणा की है, जिसमें शिवसेना भी शामिल होगी |