आज सवर्ण आरक्षण विधेयक पर राज्य सभा मैं होगी मोदी सरकार की अग्नि परीक्षा

लोकसभा में विपक्ष सहित लगभग सभी दलों ने संविधान 124 संशोधन 2019 विधायक का समर्थन किया है इस विधेयक से सामान्य वर्ग के लोगों को आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को 10% आरक्षण देने वाला विधायक कल लोकसभा में पारित हो गया है जिसे 323 वोटों से पारित किया गया था इसके विरोध में केवल 3 वोट पड़े थे आज यह विधेयक राज्यसभा में पेश किया जाना है जहां सरकार के पास बहुमत नहीं है ऐसे में राज्यसभा में बिल पास करवाना मोदी सरकार के लिए अग्निपरीक्षा से कम नहीं होगा

लोकसभा में केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री ने विधेयक पर चर्चा के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी सरकारों बनने के बाद करीब सवा को समान अवसर देने की कोशिश और बात कही थी जो इस कदम को दिखाता है

मंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि नरसिंह राव की सरकार को वैधानिक प्रावधान के बिना 10 फ़ीसदी आरक्षण का आदेश दिया था जो कि परिस्थितियों के अनुकूल नहीं था मंत्री ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी की नीति और नियत बहुत ही अच्छी है इसलिए संविधान में प्रावधान करने के बाद हम आरक्षण देने का काम कर रहे हैं ऐसे में उच्च न्यायालय सुप्रीम कोर्ट के द्वारा इसे निरस्त करने की संख्या बिल्कुल निराधार होगी