ठण्ड का टुटा कहर स्कूल हुए बंद।

goverment school

ठंडी का मौसम आ रहा है और जैसे जैसे हवा चल रही है वैसे वैसे बच्चे और बुढो के लिए मुसीबत आयी जा रही है। रात में तेज हवा चलने की बजह से ठण्ड तेजी से बढ़ रही है। जैसे जैसे ठण्ड बढ़ रही है वैसे वैसे स्कूल में बछो को कई तरह की मुसीबत का सामना करना ओढ़ रहा है।

 

विधार्थियो को सुबह सुबह स्कूल जाने में दिक्कत आती है। बच्चे ठण्ड में ठिठुर क्र स्कूल जाते है। विधार्थियो के लिए सुरक्षा देखते हुए जिला प्रशासन ने 10 जनवरी तक कक्षा 8 तक के स्कूल और प्राइवेट निजी स्कूलों को बंद करने का आदेश दे दिया है। बागपत में रात में और सुबह जातक को रद्द करने की वजह से इतनी ठंड रहे की बच्चों को तो छोड़ो दलों का भी घर से बाहर निकलना बड़ा मुश्किल था। बागपत का तापमान 9 डिग्री सेल्सियस से 19 डिग्री सेल्सियस रहा हालांकि तापमान ज्यादा नहीं था। परंतु सुबह ठंड इतनी थी कि घर से बाहर निकलने का किसी की हिम्मत ही नहीं हुई।

 

हालांकि ठंड इतनी थी कि कोई भी घर से जल्दी बाहर नहीं निकल रहा था परंतु 11:00 बजे के बाद जब तू अपने के लिए तो लोगों को ठंड से राहत मिले जिला प्रशासन ने ठंड को देखते हुए बाघपत बड़ोद और खेकड़ा जैसे क्षेत्रों में पब्लिक स्कूल बंद का ऐलान कर दिया और इससे बच्चों को काफी राहत मिली है। परंतु इस दौरान सरकारी स्कूल के बच्चों को अभी भी ठंड में स्कूल जाना पड़ा जिससे उन्हें थोड़ी मुसीबत हुई।

 

परंतु खुशी की बात यह है कि जो स्कूल आठवीं का जो गवर्नमेंट में है उन्हें कक्षा तक स्कूल बंद किया और यदि स्कूल कक्षा 8 तक स्कूल बंद नहीं करता है या इस दिए आदेश उल्लंघन करता है तो उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई  होगी।