देश को दहलाने की आतंकी साजिश

अमरोहा में पकड़े गए आतंकी जो देश को दहलाने की कोशिश कर रहे हैं उससे यह पता चलता है कि देश में कितना नकारात्मक माहौल फैलाया जा रहा है कैसी बातें बताई जा रही है

आज हमारे देश के कुछ गद्दार जो अपने देश का सीना ही चलने करने को तैयार हैं अमरोहा में हुई वारदात इस बात की गवाह है कि वह सीरियल धमाके करने की फिराक में थे इससे पहले हमारी अलर्ट एजेंसी वाले उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया इससे पता चलता है की पकड़े गए आतंकियों के मंसूबे कितने खतरनाक थे और वह देश को दहलाने के लिए पूरी तैयारी कर रहे थे

इतना ही नहीं यह तो सिर्फ जाते हैं उनके आकाओं को पकड़ा जाए तब इसका पता चले यह कहां से साजिश रच रहे थे और देश को किसके कहने पर दहलाने की साजिश कर रहे थे अगर हमारी सोच एजेंसियां समय पर उन्हें ना करती तो शायद वह कितनी बड़ी तबाही मचा सकते

थे इसका हमें अंदाजा भी नहीं हो सकता क्योंकि जो उनके पास विस्फोटक और हथियार बरामद हुए हैं वह कम से कम हजार दो हजार की आबादी को खत्म कर सकते थे हजारों बच्चों को अनाथ कर सकते थे इतनी खतरनाक साजिश इन आतंकियों के द्वारा रची जा रही है जहां तक कि यहां इस आतंकी की साजिश के सरगना पाकिस्तान में बैठे हुए हैं दूर बैठकर भारत को बनाने की कोशिश कर रहे हैं

आईएसआईएस सीरियल धमाके के पीछे आईएस का हाथ है जिसे एनआईए ने बखूबी सतर्कता से अपने फर्ज को निभाया है कुछ अनहोनी से पहले ही हो सनम होने की संभावना को एनआईए ने खत्म कर दिया है

अमरोहा के गिरोह के सरगना ने बाटी थी अलग-अलग जिम्मेदारियां

अमरोहा में पकड़े गए धमाकों की धमाकों की साजिश करने वाले गिरोह के सरगना ने ग्रहों के प्रत्येक मेंबर को एक अलग-अलग जिम्मेदारी दी थी जिसके में बैटरी खरीदने तथा पाइप खरीदने और बम बनाने का सामान आदि शामिल था यह इतना शक्तिशाली बम बना रहे थे कि जिससे किसी भी बड़ी बिल्डिंग को तबाह किया जा सकता है और 1000 लोगों की जान जा सकती थी

एन आई अफसरों ने सफाई कर्मी और नगर पालिका के रूप में की जांच

जांच एजेंसियों ने किसी को शक ना हो इसलिए उन्होंने नगर पालिका और सफाई कर्मी बनकर अमरोहा में जांच की और आतंकियों को धर दबोचा यह एनआईए के लिए बड़ी कामयाबी है साथ ही उसने एक बार फिर साबित किया है कि उन्हें हिंदुस्तान की हिफाजत करना बखूबी आता है