आज सूर्य ग्रहण है जानिए आज के दिन क्या क्या सावधानिया बरते।

हिंदू धर्म में सूर्य ग्रहण को लेकर पुरानी कथाएं के मान्यता है जिसकी वजह से वैदिक ग्रंथों में एक महत्वपूर्ण घटना बताएं कि वह है सूर्य ग्रहण. साल 2019 का प्रथम सूर्य ग्रहण शनि अमावस्या के दिन लग रहा है ज्योतिषियों के अनुसार इस दिन शनि भगवान का जाप और दान करना शुभ माना जाएगा हालांकि अगेन भारत में नहीं दिखाई देगा ज्योतिष कार्यों का मानना है कि भारत में ने दिखने का कारण आंशिक सूर्यग्रहण का होना अमावस्या 5 जनवरी को सुबह 4:00 बज के 8:00 से 6 जनवरी को सुबह 6:08 बजे तक रहेगी शनिवार होने के कारण इस दिन भगवान के मंत्र का जाप भी करना चाहिए और पुलिस को सूतक काल में मंदिरों के कपाट बंद रहते हैं और वहां पूजा-अर्चना मनाही होती है गर्भवती महिलाओं की इस दौरान घर से बाहर नहीं निकलने की मान्यताएं सूर्य ग्रहण को देखने के शौकीन लोग ना सजनिया द्वारा किए जाने वाले ऑनलाइन टेलीकास्ट के दिन इंटरनेट पर लाइव देख सकते हैं. क्या है आशिक सूर्य ग्रहण=. सूर्य ग्रहण तब होता है जब पति चंद्रमा सूर्य एक ही सीधी रेखा में और चंद्रमा पृथ्वी सूर्य के बीच में आ जाए क्यो कि चंद्रमा कुछ देर के लिए पृथ्वी और सूर्य के बीच आ जाता है जिस से सूर्य का पृथ्वी के कुछ इसे पर दिखाई नहीं देता है नहीं देता है इसी को ग्रहण कहते हैं लेकिन जब सूर्य चंद्रमा पूरा नहीं ड पता उसका कुछ ऐसा ही लगता है इसे आंशिक सूर्यग्रहण कहते. खगोल शास्त्र के अनुसार 2019 में कुल 5 ग्रहण लगेंगेे जिनमें सूर्य ग्रहण तीन बार लगेंगे दो बार चंद्र ग्रहण लगेंगे 2019 में जनवरी के महीने में सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण लगेगा

यह ग्रहण चीन जापान कोरिया रूस इत्यादि कुछ देशों में दिखेगा भारत में पूरा दर्शन नहीं देख पाएगा यह ग्रहण धनु राशि पर लगेगा सनी समय धनु में गोचर कर रहे हैं ग्रहण के समय पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र रहेगा ज्योतिषाचार्य सुजीत जी महाराज के अनुसार यह ग्रहण प्रत्येक राशियों को प्रभावित करेगा इसलिए हर राशि को लोग अलग-अलग राशि के अनुसार उपाय करे मेष राशि = श्री हनुमान जी की उपासना करें मंगल के बीज मंत्र का जप करें श्री आदित्य स्त्रोत का पाठ करें गरीबों में लाल रंग का कंबल का दान करें गायत्री मंत्र का जप करना लाभप्रद है मिथुन= श्री विष्णु भगवान का पाठ करें ओम नमो का उपाय करें वैज्ञानिकों के अनुसार= सूर्य ग्रहण के दौरान खतरनाक सोलर रेडिएशन निकलती है यह सोलर रेडिएशन आंखों के नाजुक टिशु को नुकसान पहुंचा सकती इसकी वजह से भक्ति क्या कहता खराब हो सकती है जिसे रेटिनल सनबर्न के नाम से जाना जाता है इस साल इस साल का पहला सूर्य ग्रहण 6 जनवरी को लगने वाला है अगर आप इस ग्रहण को देखने का मन बना रहे तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी होगी वरना आप अपनी आंखों की रोशनी भी कमा सकते हैं हालांकि भारत में सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा यह ग्रहण मध्य एशिया अमरीका में दिखाई देने वाले आप जब कभी ग्रहण के दौरान सूर्य देखने का मन बना रहे तो अपनी आंखों की रोशनी का ध्यान रखते हुए इन खास बातों को जरूर