राम जन्मभूमि पर आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला।

राम जन्मभूमि के मामले पर सर्वोच्च न्यायालय के 5 जजों की संविधान पीठ करेगी सुनवाई।

माननीय सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संविधान पीठ राजनीतिक रूप से उठते संवेदनशील अयोध्या राम जन्मभूमि के विवाद पर आज सुनवाई करेगी यह पीठ इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ की गई याचिका पर बाइक करेगी सुप्रीम कोर्ट चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की पीठ में न्यायमूर्ति एन बी रमन न्यायमूर्ति एस ए बोबडे न्यायमूर्ति धनंजय भाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति उदयू ललित श्यामल है

देश की फीस अदालत के 3 सदस्यों वाली पीठ ने पिछले वर्ष 27 सितंबर को 2 – 1 के बहुमत से मामले को शीर्ष अदालत के 1994 के एक फैसले की गई टिप्पणी को दोबारा विचार के लिए पांच सदस्य संविधान पीठ को भेजने से मना कर दिया गया था जिसमें कहा गया था कि मस्जिद इस्लाम का का हिस्सा है मामला अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद के सुनवाई करने के वक्त उठा था

इस मामले की सुनवाई 4 जनवरी के लिए की गई थी तो इस बात का कोई संकेत नहीं हुआ था कि भूमि विवाद मामले को संविधान पीठ के पास भेजा जाएगा सुप्रीम कोर्ट ने बस इतना ही कहा था कि इस मामले में जो उचित होगा वह कार्रवाई की जाएगी और उचित पीठ को अगला आदेश देगी नई पांच सदस्यों की गठित पीठ में ना केवल चीफ जस्टिस होंगे बल्कि इसमें 4 और जज होंगे