भारत में बने इस Modi bike बाइक को लेकर विदेसी इंजीनियर भी हो रहे हैं हैरान।

दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं कि भारत में टैलेंट की कोई कमी नहीं है और जिधर देखो टैलेंट होता रे मिल जाता है आप गली में कोने कोने पर चौराहे पर कई ऐसे मासूम लोगों को और कई ऐसे व्यक्तियों को देखेंगे जो अपने टैलेंट के बलबूते पर कितना कुछ कर जाते हैं जो किसी भी आम लोगों के बस की बात नहीं है एक ऐसा ही कारनामा कर देखा है मेरठ के एक छात्र ने जहां मेरठ के एक छात्र छात्र ने ऐसा कारनामा किया है कि जिससे विदेशी इंजीनियरों को भी सोचना पड़ रहा है कि आखिर ये कारनामा हुआ कैसे तो आज हम आपको बताएंगे इसके बारे में क्या फिर क्या हुआ है सा और उस मेरठ के छात्र ने ऐसा क्या किया।

 

 

Modi bike ये चलेगी बिना पेट्रोल और डीजल।

आपको सुनकर बड़ी हैरानी होगी कि मेरठ के एक छात्र ने जिसका नाम का करम है विक्रम अहमद है उन्होंने एक ऐसी बाइक बनाई है जो बिना पेट्रोल और डीजल के चलती है आपको जानकर इससे भी ज्यादा ही हैरानी होगी कि इस बाइक में मात्र ₹20 में आप सौ किलोमीटर तक का सफर कर सकते हैं कहने का मतलब यह है कि यह 200 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से आप बता सकते हैं और यह बाइक बिना किसी डीजल और पेट्रोल के चलेगी।

Modi bike

Modi bike को बनाया है मेरठ के एक छात्र ने।

अकरम अहमद की परिवारिक हालत इतनी सही नहीं है परंतु उन्होंने फिर भी अपनी कड़ी मेहनत और अपने लगन से यह बिना पेट्रोल डीजल के चलने वाली बाइक का निर्माण किया है उनको शुरू से ही मोटर इंजीनियरिंग में बहुत शौक था और वह इन सब में काफी रुचि रखते थे उनकी परिवार की हालत को ज्यादा जिन्होंने के बजे के बावजूद भी उन्होंने ₹72000 लगाकर यह बाइक अपनी कड़ी मेहनत और अपनी कड़े परिश्रम से सिर्फ 2 महीने के अंदर तैयार कर दिया है अकरम अहमद ऑटोमोबाइल इंजीनियर के छात्र हैं और बचपन से ही उनको ऑटोमोबाइल में काफी दिलचस्पी रही है वह दिल्ली के इंजीनियरिंग कॉलेज के टॉपर भी रह चुके हैं और इनका सपना ही था कि वह मोदी की श्री मोदी जी के सपनों को सच कर सके और उसके लिए कुछ कर सके इन किया कविता देखकर कई लोग उनकी प्रशंसा कर रहे हैं और उनका हौसला और बढ़ा रहे हैं।

 

Modi bike में नही हुआ किसी भी इंजन का प्रयोग।

इस मोटर बाइक में कोई भी इंजन का प्रयोग नहीं किया गया और यह मोटरबाइक सिर्फ जनरेटर के तौर पर चलती है देखा जाए तो इसमें वह सारे फीचर है जो एक आम बाईकों में होते हैं और उसको एक जनरेटर के द्वारा चला जाता है मतलब इसमें एक मोटर लगी है जिससे बाइक चलती है इसमें बाइक वाली जो चैन होती है वह वह भी नहीं लगी है इसमें अलग तरीके के सिस्टम का प्रयोग किया गया है यह बाइक की बैटरी चार्ज करने के लिए लैपटॉप आदि का चार्जर इस्तेमाल कर सकते हैं जो कि बहुत उपयोगी साबित हो सकता है।