पाकिस्तान में होता है हिंदुओं का जबरन धर्म परिवर्तन इस्लाम कबूल ना करने पर मार दी जाती है गोली

पाकिस्तान में जबरदस्ती कराया जा रहा है धर्मांतरण हिंदुओं को बनाया जा रहा है बड़ी मात्रा में मुसलमान

पाकिस्तान में जबरदस्ती हिंदुओं की लड़कियों को किडनैप कर लिया जाता है और उन्हें जबरदस्ती धर्मांतरण कराया जाता है

पाकिस्तान से आए रमेश कव्वाली ने बताया है कि पाकिस्तान में जबरजस्ती हिंदू लड़कियां और अल्पसंख्यकों को पकड़कर जबरदस्ती माधवन करवाया जाता है और कभी कभी इनका बंदूक की नोक पर धर्म परिवर्तन कराया जाता है इतना ही नहीं धर्म परिवर्तन करवाने के बाद इनकी बहुत बुरी हालत की जाती है

पाकिस्तान में कट्टरपंथियों का राज इस कदर कायम है कि वह इतना समझते हैं कि पाकिस्तान में केवल एक ही काम रह सकती है भाई केवल मुसलमान इसके अलावा और कोई कॉम पाकिस्तान में नहीं रह सकती पाकिस्तान जब से आजाद हुआ है तब से बाय हिंदुस्तान और हिंदुओं से नफरत करता है आज भी पाकिस्तान के अंदर हिंदुओं के लिए नफरत कम नहीं हुई है और बढ़ती जा रही है जब भारत और पाकिस्तान आजाद हुए थे तब पाकिस्तान में 16 परसेंट हिंदू आबादी थी जो आज घटकर 1 पॉइंट एक रह गई है जोकि वहां की हिंदुओं के प्रति नीति को दर्शाता है यूएन की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के 90 परसेंट हिंदू पाकिस्तान छोड़ चुके हैं और भाई भारत में बस चुके हैं या तो किसी अन्य राष्ट्र मे

हिंदुओं के प्रति अपमानजनक व्यवहार

पाकिस्तान में हिंदुओं के प्रति अपमानजनक व्यवहार किया जाता है जिसे मैं कथित होकर पाकिस्तान छोड़ रहे हैं आज नब्बे पर्सेंट हिंदू पाकिस्तान छोड़ चुके हैं पाकिस्तान में इस्लामिक कट्टरपंथ का बोलबाला है इतना ही नहीं वहां हिंदू ही नहीं मां की अल्पसंख्यक भी सुरक्षित नहीं है वहां ना तो अब इस आई बचे हुए हैं ना तो बहुत है और ना ही सरदार और जो बचे हुए हैं उनकी संख्या ना के बराबर है

वहां के पूजा स्थलों को समाप्त कर देना

पाकिस्तान के अंदर इस्लामी कट्टरपंथ के कारण हिंदू के तीर्थ स्थानों और मंदिरों को तोड़कर वहां सरकारी बिल्डिंग है और टॉयलेट बना दिए गए हैं और ना ही अनु पूजा करने का अधिकार है और जो मंदिर बने हुए हैं उन तक रास्ते बंद कर दिए गए हैं ताकि पूजा ना हो पाए पाकिस्तान के हालत में हिंदू आप सिर्फ कैदी बंद कर ही रहते हैं विश्व सर्वे मैं यह है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की हालत बद से बदतर है वहां पर बुद्ध मंदिरों को तोड़कर टॉयलेट बनाए गए हैं और सरसो को तोड़ कर उन पर सरकारी बिल ने बना दी गई है और गुरुद्वारों को तोड़कर उन पर टॉयलेट और भू माफियाओं का कब्जा हो गया है