पाकिस्तान ने एक बार फिर की चीन की चरण वंदना कहा चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे का कोई सैन्य पहलू नहीं

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में पाकिस्तान के एक वरिष्ठ प्रवक्ता ने कहा कि चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा एक द्विपक्षीय आर्थिक परियोजना है

पाकिस्तान के पाकिस्तान सरकार के प्रवक्ता ने बताया की चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे को सैन्य नजरिए से देखना गलत होगा पाक विदेश प्रवक्ता मोहम्मद भजन समीर की रिपोर्ट पर पूछे गए सवाल का जवाब दिया जिसमें आरोप लगाया गया था

कि चीन 60 अरब अमेरिकी डॉलर की इस परियोजना के तहत पाकिस्तान में लड़ाकू विमान अन्य से सैन्य हथियार बनाने की योजना पर काम कर रहा है निवारक टाइम्स में छपी एक खबर के मुताबिक पाक वायु सेना व चीनी अधिकारी इस गुप्त प्रस्ताव के अंतिम रूप के लिए तैयार हैं हालांकि चेन्नई पिछले सप्ताह इस रिपोर्ट को झूठा बताते हुए खारिज कर दिया था पाकिस्तान के एक अखबार डॉन ने फैसले के हवाले से कहा चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा पाकिस्तान अर्थव्यवस्था इसके तहत आने वाले ऊर्जा और बुनियादी ढांचे से जुड़े क्षेत्रों में सुधार किया गया है चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा द्विपक्षीय आर्थिक परियोजना है जो किसी देश के खिलाफ नहीं है