अब आपको इनकमिंग कॉल के भी पैसे चुकाने पड़ सकते हे ,पढ़े पूरी खबर।

call rate

जब से जिओ ने 4g सेवा और सस्ते कॉल दर और इंटरनेट की सेवा देना शुरू किया हे दूसरी टेलिकॉम कम्पनियो की नींद हराम हो चुकी हे,इनमे से कइयों का बिज़नेस ठप हो गया हे तो मुट्ठी भर कंपनिया अपने बिज़नेस को संभालने के लिए भारी जद्दोजहद का सामना करती दिख रही हे,ऐसे में टेलिकॉम कम्पनियो ने जियो  मुकाबला करने के लिए एक रास्ता निकाला हे।

आपको बता दे टेलिकॉम कम्पनिया एयरटेल ,वोडाफोन और आईडिया पिछले दो साल से न केवल अपने प्लान बदले हे अपने कॉल्स के साथ साथ अपने डाटा की कीमतों में भी कटौती की हे,इसके बावजूद उनका यूजर बेस गिरा हे और उन्हें भारी घाटे का सामना भी करना पड़ा हे,ताजा खबर अनुसार आईडिया और वोडाफोन को हाल हे में 5000 करोड़ का नुकसान हुआ हे।

अब इन टेलिकॉम कप्म्पनियो ने ये निर्णय लिया हे की वह अपने ग्राहकों फ्री इनकमिंग सुविधा नहीं देगी , इस सुविधा का लाभ लेने के लिए ग्राहक को हर महीने 35 रूपये चुकाने होंगे , इस मंथली चार्जेज से कम्पनिया कमाई करना चाहती हे,और उनका इरादा हे की जो भी घाटा अभी हो रहा हे उससे थोड़ा फायदा होगा,अगर ग्राहक ने मंथली रिचार्ज नहीं किया तो उसकी इनकमिंग सेवा को बंध कर दिया जायेगा।

इस सुविधा का लाभ लेने के लिए आपको हर महीने 35 रूपये का अलग से रिचार्ज करना होगा जिसमे 26 रूपये बैलेंस और 28 दिन की वैधता मिलेगी , अगर 28 दिन होने के बाद आप रिचार्ज नहीं करते तब बेलेंस होने के बावजूद आप किसीको कॉल नहीं कर पाओगे याने की आउटगोइंग सेवा बंध करदी जाएगी यदि कुछ समय बाद अगर आप रिचार्ज नहीं करते तो आपकी इनकमिंग सेवा भी बंध करदी जाएगी याने की अब आपके मोबिएल पर कॉल आएगी भी नहीं,

जब की कंपनियों का कहना हे की हम अपनी सेवा के बदले एक नियत शुल्क वसूल कर रहे हे,इस लिए ये नया नियम बनाया गया हे।