Robert Vadra Case :- जानिये क्या है रॉबर्ट वाड्रा का पूरा मामला

रॉबर्ट वाड्रा ( Robert vadra ):-

2005 से ही विवादों में घिरें रॉबर्ट वाड्रा को मनी लॉन्ड्रिंग केस के मामले में 7-फ़रवरी और 8 -फरवरी को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के दफ्तर में हाजिर पूछताछ के लिये होना पड़ा, जहाँ उनकी 5 घंटे तक पूछताछ हुई। मनी लॉन्ड्रिग केस (Money Laundering Case) related अब भी पूछताछ जारी है, प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने रॉबर्ट वाड्रा को अपने जयपुर कार्यालय में 12 फरवरी को पेश होने के लिए कहा है।

कौन है रॉबर्ट वाड्रा :-

राजीव गांधी की सुपुत्री प्रियंका गांधी के पती रॉबर्ट वाड्रा का जन्म 18 मई 1969 को मुरादाबाद में हुआ. उनके पिता राजेंद्र वाड्रा है और माँ मॉरीन वाड्रा मूल रूप से स्कॉटिश है, रॉबर्ट वाड्रा के दादा हुकुम राय वाड्रा 1954 में पहले पाकिस्तान के सियालकोट से बेंगलूरु और उसके बाद मुरादाबाद में स्थायी हो गये, वही पर रॉबर्ट वाड्रा का जन्म भी ही हुआ. इनके पिता एक बिजनेसमैन थे, उनका पीतल का छोटा कारोबार था, जिसमे आगे चलके उन्हे तरक्की मिली.

रॉबर्ट वाड्रा ने अपनी दसवीं तक की पढ़ाई दिल्ली के ब्रिटिश स्कूल में की और उसके बाद उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी और अपने पिता के साथ बिज़नेस में जुड़ गये, और आज वो एक कामयाब बिजनेस मैन है, कई कंपनियों के साथ उनकी भागीदारी है. उनकी एक बेटी और बेटा है.

रॉबर्ट वाड्रा की प्रेमकहानी:-

प्रियंका गांधी से रॉबर्ट वाड्रा की मुलाकात 1991 में दिल्ली में एक कॉमन फ्रेंड के घर पर हुई थी. बाद में दोनों की नज़दीकियां बढ़ीं और उन्होंने 18 फरवरी, 1997 को शादी कर ली. प्रियंका गाँधी से विवाह करने के बाद रॉबर्ट वाड्रा की जिंदगी ही बदल गयी. उस वक्त भारत का ये नवविवाहित जोड़ा न सिर्फ चर्चा में रहा बल्कि हर कोई जानना चाहता था की ये रॉबर्ट वाड्रा हैं कौन? जिससे भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी और सोनिया गाँधी बेटी प्रियंका गाँधी से शादी हुई है, उन्हें एक बेटा और एक बेटी भी है।

कहाँ जाता है कि, रॉबर्ट वाड्रा की फॅमिली इस शादी से खुश नहीं थी, ये खबरे उस समय सुर्खियों में होती थी, सूत्रों के अनुसार, 2001 में एक समय ऐसा भी आया की रॉबर्ट की उनके पिता के साथ संबंध बिगड़ने की वजह से उन्होंने पब्लिक बयांन देकर खुद को अपने पिता से अलग कर लिया था।

उन्हें अपनी जिंदगी में कई ऐसे दुखों का सामना करना पड़ा जिससे हर कोई डरता है।

दुःखद घटनायें :-

रॉबर्ट वाड्रा को एक भाई और एक बहन थीं.

2001 में उनकी बहन की कार दुर्घटना में मौत हो चुकी है और 2003 में उनके भाई ने आत्महत्या की थी. 2009 में उनके पिता की हृदयविकार होने की वजह से मृत्यु हो गई. अब वाड्रा परिवार में उनकी माँ ही उनके साथ थी। कहाँ जाता है की रोबर्ट वाड्रा अपने माँ के बेहद करीब है, साथ ही वो काफी विवादों में भी आने लगे थे।

रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े विवाद :-

सन 2005 में भारत सरकार नें देश-विदेश जाने पर सुरक्षा जाँच से मुक्त की सूची में रॉबर्ट वाड्रा का नाम भी शामिल कर लिया गया था. तब यह विवाद हुआ था कि इन्हें किस वजह से यह सुविधा दी जा रही है. रॉबर्ट वाड्रा राजनीति में नहीं थे और इन पर आरोप था की ये प्रियंका गाँधी के पती और सोनिया गाँधी के दामाद होने की वजह से उन्हें यह सुविधा मिली है।

2014 के चुनाव के दरम्यान, अमेरिकी अखबार (वॉल स्ट्रीट जर्नल) में छपी खबर के अनुसार रॉबर्ट वाड्रा ने 2007 में एक लाख रुपये में अपना बिजनेस शुरू किया लेकिन 2012 में उनकी संपत्ती 300 करोड़ से अधिक पायी गई. अखबार में लिखे लेख मुताबिक 2007 से 2012 के बीच मंदी छाई थीं, इसके बावजूद इतना मुनाफा रॉबर्ट वाड्रा ने आखिर कैसे कमा लिया, इस एक वजह से भी वो विवादों में घिरें।

हरियाणा के एक अफसर अशोक खेमका ने लैंड कंसोलिडेशन डिपार्टमेंट का चार्ज छोड़ते वक्त रॉबर्ट और भारत की एक अग्रणी रियल एस्टेट कंपनी डीएलएफ के बीच गुड़गांव जिले में हुई ज़मीन सौदे की म्यूटेशन को रद्द कर दिया था।

अपनी रिपोर्ट में खेमका ने कहा कि यदि सही तरीके से जांच हो तो हरियाणा की काँग्रेस सरकार के कार्यकाल के दौरान 20 हजार करोड़ से 350 हजार करोड़ तक का जमीनों का घोटाला निकल कर सामने आ सकता है।

ताजा विवाद :-

2005 से विवादों में घिरें रॉबर्ट वाड्रा की 2019 में मनी लॉन्ड्रिग केस (Money Laundering Case) related काफी पूछताछ हो रही है, हालही में 7 फ़रवरी को उन्हें प्रवर्तन निदेशालय (ED) के दफ्तर में पूछताछ के लिए बुलाया गया, जहा उनसे तकरीबन 5 घंटे तक ४० सवाल पूछे गए, फिर दूसरे दिन गुरुवार को पूछताछ के लिए बुलाया गया, और तब उनसे ई मेल के बारे में पूछताछ की गयी, दरअसल ED के पास ई मेल की कॉपी है जिसके बारे में उनसे पूछताछ हो रही है। सूत्रों के अनुसार रॉबर्ट वाड्रा को सुमित चड्ढा ने एक मेल किया था जिसमें लंदन की प्रॉपर्टी का ज़िक्र है। इस मेल में वाड्रा से प्रॉपर्टी में होने वाले काम का भी ज़िक्र है।

सूत्रों के मुताबिक, ED सारे सबूतों के बेसिस पर रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ क्र रही पर और वाड्रा के अनुसार उनकी लंदन में कोइन प्रॉपर्टी नहीं है।

पर ED के पास वो मेल है, जिसकी जानकारी आयकर विभाग को अक्टूबर 2016 में तब हुई थी जब उसने आर्म्स डीलर संजय भंडारी के घर पर छापा मारा था। ये ईमेल संजय भंडारी, उसके भतीजे सुमित चड्ढा और रॉबर्ट वाड्रा के बीच जून 2009 से अक्टूबर 2010 के बीच किए गए हैं और इन मेलों में लंदन की संपत्ति के बारे में बातचीत का जिक्र किया गया है। इन्ही सारे सवालों के जवाब ED रॉबर्ट वाड्रा से मांग रही है।

पूछताछ अब भी जारी है, प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने रॉबर्ट वाड्रा को अपने जयपुर कार्यालय में 12 फरवरी को पेश होने के लिए कहा है।

इस केस को लेकर हर पार्टी के अपने अपने विचार है, Let See, ED की अगली सुनवाई क्या होती है।

What you Think ? Drop your opinion in Comment section…..