AFC Asian Cup के पहली ही मैच में भारत को मिली जीत : मैच में अनिरुद्ध थापा का योगदान

Aniruddha Thapa

एशियाई फुटबॉल संघ(एएफसी) एशियन कप के ग्रुप ए का पहला फुटबॉल मैच ६ जनवरी २०१९ को हुआ.जिसमे भारत और थाईलैंड आमने-सामने थे और भारत ने बड़े ही शानदार तरीके से थाईलैंड के खिलाफ ४-१ से जीत हासील की। टीम इंडिया के सारे खिलाडियों ने अपना अपना योगदान दिया, सुनील छेत्री जो भारत के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर माने जाते है, उन्होंने दो गोल किये तो जे जे और थापा ने एक-एक गोल किया।

पहली बार ये टूर्नामेंट २४ टीमों के बीच खेला जा रहा है, जबकि हर बार ये १६ टीमों के बीच होता था, इसके चार-चार टीमों के छह ग्रुप बनाये गए हैं, हर ग्रुप में से दो-दो शीर्ष टीमें और तीसरे स्थान पर रहनेवाली चार टीमें राउंड १६ में अपनी जगह बनाने के लिए लड़ेंगी। वही भारत ने अपना पहला मुकाबला खूबसूरती से जीतकर, सबकी उम्मीदें बढ़ा दी हैं।

इस मैच के लिये ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन ने 23 खिलाडिय़ों की टीम तैयार की जिसमें अनिरुद्ध थापा का नाम  बतौर मिडफील्डर शामिल किया गया, जो उत्तराखंड के एकमात्र खिलाड़ी थे, और उन्होंने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन के फैसले को सही साबित कर दिखाया।

देहरादून के युवा फुटबॉलर अनिरुद्ध थापा, सीनियर टीम में खेलने से पहले भारत की अंडर-14, अंडर-16 और अंडर-19 आयु वर्ग में भी खेल चुके है, ८ साल की उम्र में इन्होने पहला मैच खेला था, ये एक युवा खिलाडी है और इनसे देश को काफी उम्मीदें हैं।  2017-18 में अनिरुद्ध थापा को इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर के अवॉर्ड से भी नवाजा गया है ।

उम्मीदें तो देश को यही है की इसबार टीम इंडिया जीतकर आएगी और अपने साथ एएफसी एशियन कप लेकर आएगी।