आसानी से अंग्रेजी कैसे बोले?how to speak English in Hindi

How to speak English

हेलो दोस्तों आपका एक बार फिर से स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आपका एक बार फिर से स्वागत है हमारे ब्लॉग पर www.todaymyindia.com आज मैं आपको सिखाने वाला हूं English speaking tips ऐसी दमदार चीजे जिसको पूरे भारत में हर एक  Normal person इंसान को जरूरी है। दोस्तों आपने देखा होगा कि कहीं पर भी आप किसी इंटरव्यू में जा रहे हो किसी के साथ मीटिंग है किसी चीज की तैयारी करने जा रहे हो या किसी के इनविटेशन में जा रहे हो। आप अपने चारों तरफ सिर्फ यह देखते हैं कि हर कोई इंसान जो अपने आप को अच्छी Personality में दिखाना चाहते हैं और जो अच्छी Personality में है अधिकतर वह इंसान English बोल रहा है और कहीं ना कहीं आपके मन में भी यह सवाल आ रहा होगा कि जो इंसान इतनी अच्छी English बोल सकता है तो मैं क्यों नहीं बोल सकता हूं।

 

हमारे English speaking ना बोलने की सबसे बड़ी जो वजह है वह हम खुद हैं क्योंकि हमें English बोलना यह सिर्फ हमारे ऊपर ही निर्भर करता है। इंग्लिश बोलना कोई मुश्किल बात नहीं है पर लोग इसको इतना मुश्किल समझते हैं जिससे हमारा मस्तिष्क इसको अवसर करने में हमारे मस्तिष्क में यह सब बात जमाने में टाइम लग जाता है क्योंकि हम सोचते ही हमारे बस की बात ही नहीं पर हम गलत सोचते हैं। आप सोचो यदि सामने वाला कोई इंसान इंग्लिश बोल रहा है तो उस इंसान ने इंग्लिश सीख ही तो है जो वह इंसान इंग्लिश सीख सकता इंग्लिश बोल सकता है तो आप क्यों नहीं। बात यह होती है कि जो सामने वाले इंसान हैं हो सकता है वह Private school में पढ़ा हुआ हो उसके पास अच्छा माहौल और ज्यादा इंग्लिश बोल सकता है और English speaking का सबसे बड़ा रीजन यही है। कि आप के अगल बगल में आकर आस-पास English speaking का माहौल होना चाहिए। अगर आप किसी आम व्यक्ति के पास जाते हैं उसके माहौल को देखते हैं वह माहौल नहीं होता इसलिए आज मैं आपको बताने वाला हूं जिससे आप अपना माहौल क्रिएट कर सकते हैं और आप बहुत ही Fluent English speaking सीख सकते हैं तो चलिए जानते हैं हम बारे में कि हम कैसे अच्छी इंग्लिश बोल सकें।

 

क्या आप बार-बार Grammar Rules और अपनी Vocabulary भूल जाते हैं आपको यह फील होता है कि आप किसी Foreigner की तरह इंग्लिश नहीं बोल सकते आप English speaking में शर्म महसूस करते हैं कि कहीं आप कुछ wrongs word ना बोल दे तो आप इसके लिए बेफिक्र हो जाइए क्योंकि मैं अपने इस पोस्ट के माध्यम से आपको ऐसी ट्रिक बताने जा रहा हूं जो आपको इंग्लिश बोलने में बहुत मदद करेगी और लगभग आप इतनी इंग्लिश बोलना है लग जाएंगे कि आप दूसरों को आराम से फेस कर सकते हैं दूसरों से आराम से इंग्लिश में बातें कर सकते हैं तो आइए चलिए जानते हैं इन ट्रिक्स के बारे में जिसे आजमा कर आप बहुत अच्छी इंग्लिश बोलना सीख सकते हैं।

आपकी English speaking improve करने के लिए 5 Tips आपको जरूर आजमाने चाहिए।

  • English speaking  मैं किए हुए गलतियों से कभी ना डरे। आपकी गलतियां आपको यह सिखाती है कि आपने क्या गलती की है और वह आपके दिमाग में हो पाते डाल देती है कि आपने यह गलती की है जिसका सॉल्यूशन यह होगा तो इससे आप वह चीज भूलेंगे नहीं और अगर आप कभी दोबारा वह गलती कर रहे होंगे तो चंद सेकेंड में आप उस गलती का एहसास हो जाएगा और आप वापस सही ग्रामर यूज़ कर पाएंगे।
  • English speaking:- करते समय अपने आपको गर्व महसूस करो जब आप किसी से इंग्लिश में बात करते हैं और आप ही conversation खत्म हो जाती है तो आप अपने ऊपर गर्व महसूस करें कि आपने इंग्लिश स्पीकिंग की एक कन्वर्सेशन अच्छे से कंप्लीट कर ली इससे आपको पॉजिटिव एनर्जी मिलेगी और आप अपने इंग्लिश सीखने के प्रति और भी ज्यादा उत्तेजित और प्रेरित होंगे।
  • English speaking:-  की प्रैक्टिस ज्यादा करें अपने इंग्लिश स्पीकिंग पर बहुत ज्यादा फोकस करें और अपनी इंग्लिश स्पीकिंग की प्रैक्टिस जारी रखें इससे यह होगा कि आप में इंग्लिश बोलने की क्षमता बढ़ती चली जाएगी और आपको उसमें अपना आगे का अच्छा इंग्लिश बोलने वाला अनुभव दिखाई देगा इंग्लिश स्पीकिंग की प्रेक्टिस ही एक ऐसी चीज है जो आपको बेहतर से बेहतर बना सकती है।
  • English words listening-English speaking सीखने के लिए आप हमेशा सुनने का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें इंग्लिश सुनने का जैसे टीवी चैनल में आपने न्यूज़ सुन लिया आप इंग्लिश अखबार पढ़ रहे हैं या फिर आप कोई गाना सुन रहे इंग्लिश में कोई कन्वर्सेशन कर रहा है तो आप उसकी बात सुन रहे हैं आप ज्यादा से ज्यादा इंग्लिश वर्ड सुनने की कोशिश करें इससे जो वर्ड है वह आपके मस्तिष्क में फिट होते चले जाएंगे और वह चीज बार बार बार बार सुनने से आपको हमेशा याद रहने लगी जिससे आपकी इंग्लिश स्पीकिंग और भी मजबूत होते चली जाएगी।
  •  English speaking- जब आप इंग्लिश बोलते हैं तो आपकी English speaking की knowledge उसमें बढ़ती है तो आप कोशिश करें कि आप कोई छोटी-मोटी चीज जो भी छोटे-मोटे कन्वर्सेशन है आप उसको ज्यादा से ज्यादा इंग्लिश में बोले जो भी छोटे-मोटे चीज है जो आप घर में छोटे-मोटे एक्टिवी करते हैं उसको इंग्लिश में बोले जाते ज्यादा बोले इससे यह होगा कि आप उसमें interest होने लगेंगे आप उस पर ज्यादा ज्यादा ध्यान देने लगेंगे और आपकी हैबिटेशन खत्म होगी आपकी जो तंग है उस English speaking के आधार पर फिट होना start हो जाएगी जिससे आपकी English speaking की habit बिल्कुल खत्म हो जाएगी और कोई भी common और Normal words आप बड़ी आसानी से बोल सकते हैं।
  1.  thinking in English-  आप इंग्लिश में ज्यादा से ज्यादा सोचे इंग्लिश में आप जितना ज्यादा सोचेंगे आपका मस्तिष्क आपके वर्ड्स को आपके बॉडी लैंग्वेज को ज्यादा से ज्यादा कंट्रोल करेगा आपको शुरुआत में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है पर आप को इंग्लिश आपके मस्तिष्क से अच्छा कोई नहीं सिखा सकता आप जितना ज्यादा इंग्लिश में सोचेंगे आप की इंग्लिश उतनी ज्यादा इंप्रूव होगी क्योंकि वह आपकी इंग्लिश की जो भी ग्रामर मिस्टेक होते रहती है आपका मस्तिष्क उसको अपने आप ही सही करेगा और उसका ट्रांसलेट जो भी आपके मस्तिष्क में आप काम सोच रहे हैं उसको इंग्लिश में बड़ी तेजी से ट्रांसलेट करने की शक्ति आपको देगा।
  2. Talk to yourself in English- इंग्लिश स्पीकिंग के लिए हो सके तो आप अपने आप से जितना अत्याधिक तौर पर बात कर सकते हैं करें मिरर के सामने खड़े हो जाइए शीशे के सामने खड़े होकर अपने आप से बात करिए आज आप कैसे लग रहे हैं आज आपको क्या करना है आज आपके पूरे दिनचर्या क्या है आपको किस किस जगह पर जाना है क्या क्या बातें करनी है कितने काम करने हैं किस तरीके से करने हैं आप अपने आप से जितना बात करेंगे आपकी इंग्लिश स्पीकिंग इतनी अच्छी हो तो चली जाएगी आपकी इंग्लिश स्पीकिंग की प्रैक्टिस उतनी तेज हो तो चली जाएगी और इसका आपको लाभ 1 से 2 महीने में दिखने लगेगा कि आपकी इंग्लिश स्पीकिंग कितनी इंप्रूव हो चुकी है।
  3. Tongue twister-  English speaking के लिए आपके झील का संतुलन होना बहुत जरूरी है आपकी जीत का संतुलन होना है आपको इंग्लिश बोलने में बहुत सहायता करता है क्योंकि इससे आपके English speaking का तरीका बदलता है आपका इंग्लिश बोलने की practice बदलती है और यह आप English speaking की improve चेंज करता है यह आपको इंग्लिश बोलने में बहुत है Help करता है और यह आपको सिखाता है कि English words किस तरीके से बोले जाते हैं अगर आप कोई भी English words बोल रहे हैं तो 10 लीटर आपकी जीभ का नियंत्रण का बहुत बड़ा योगदान होता है तो आप ज्यादा से ज्यादा इंग्लिश वर्ड्स को पढ़ें जिससे आपकी जेब का संतुलन English words पर सही से फिट बैठ सकें।

दोस्तों मैं आशा करता हूं मेरे दिए हुए इन इंग्लिश स्पीकिंग के तरीकों से आप कुछ ही दिनों में बहुत अच्छी इंग्लिश बोलने लगेंगे और यह तरीका आजमा कर आप महसूस करेंगे कि आप कितने अच्छे इंग्लिश बोलना शुरुआत कर चुके हैं अगर यह तरीका आपने 20 से 25 दिन भी लगातार अपना लिया तो आप लगभग 30 parentage English speaking सीख जाएंगे आप 30 परसेंट इंग्लिश स्पीकिंग में माहिर हो जाएंगे क्योंकि यह सारे तरीके हमें मदद करते हैं इंग्लिश बोलने में अपने आप को मजबूत बनाने में अपने मस्तिष्क को इंग्लिश की भाषा में कन्वर्ट करने में क्योंकि हम जिसको देखते हैं जो हमारे सामने वाला इंग्लिश स्पीकिंग इतनी अच्छी कर रहा है उसका सबसे बड़ा रीजन यही रहता है कि उसके आसपास का माहौल पूरा इंग्लिश का होगा इसमें बहुत अच्छी इंग्लिश बोल पा रहा है यह सब तरीका आजमा के आप अपने आसपास इंग्लिश स्पीकिंग का एक बहुत अच्छा माहौल बना सकते हैं जो आपको इंग्लिश स्पीकिंग में बहुत अत्यधिक तौर पर सहायता देगा।

 

Comment me...