अमेरिका का आया बड़ा बयान… अमेरिका भारत के साथ खड़ा है आतंकवाद से निपटने के लिए।

America stands with India to deal with terrorism.

14 फरवरी 2019 यह तारीख भारत को पूरे वक्त यह जगह देता रहेगा कि आतंकवादियों ने भारत को कितना बड़ा जख्म दिया है जैसा कि आप सब जानते हैं कि पुलवामा में जो इतना बड़ा आतंकी हमला हुआ है इसमें आतंकियों ने हमारे लगभग 40 जवान को मार डाला है। इस पुलवामा आतंकवादी हमले में 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए हैं।  उन सब के पार्थिव सर आज इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर लाए जाने वाले हैं देखा जाए तो आतंकियों ने यह पूरा आतंकी हमला एक बहुत बड़ी तैयारी और बहुत बड़ी साजिश के साथ किया था सोचने का विषय तो यह है कि आखिर आतंकवादियों को इस पूरे घटना की जानकारी मिली कैसे इतनी जानकारी सुविधा उनको कैसे प्राप्त हुई।

 

सोशल मीडिया की माने तो जम्मू कश्मीर के हालात दिन प्रतिदिन बहुत ही बिगड़ते जा रहे हैं। आतंकियों को सपोर्ट करने के लिए बहुत बड़े से बड़े पैमाने में लोग वहां के नागरिक देशद्रोही एकजुट हुए जा रहे हैं और ऐसी घटना हो रही है इन सब में उन देशद्रोहियों का हाथ है जो इन सभी आतंकवादियों को सपोर्ट कर रहे हैं। और सेना के सामने बहुत बड़ी चुनौती है कि उनको पकड़ना और उनसे यह सब बात भगवान लगाना अमेरिका की तरफ से बहुत बड़ा बयान आया है। कि अमेरिका भारत से कंधे से कंधा मिलाकर इस आतंकी हमले का बदला लेगा सोशल मीडिया की मानें तो भारत दुनिया के तमाम देशों से एकजुट होने के लिए कह रहा है और अमेरिका की तरफ से बयान आया है की अब एकजुट होने का समय आ गया है।

 

रोबर्ट पेलाडिनो,डिप्टी स्पोकेपर्सन अमेरिका

अमेरिका के डिप्टी स्पोकपर्सन रोबर्ट पेलाडिनो ने यह कहा है कि भारत के ओपन पुलवामा में जो इतना बड़ा आत्मघाती आतंकी हमला हुआ है या बहुत दुख दायक है और अमेरिका की संवेदनाएं भारत के साथ हैं और उन्होंने यह कहा है कि भारत में हुए इस हमले का अमेरिका जोरदार निंदा करता है और आतंकियों से निपटने में अमेरिका भारत का पूर्ण रूप से साथ देगा। अमेरिका के डिप्टी स्पोक पर्सन ने यह कहा है कि अमेरिका हमेशा से भारत के साथ खड़ा है और इस चुनौती से निपटने के लिए अमेरिका भारत की मदद करेगा और अमेरिका ने यह भी कहा है कि अब सारे देश को एकजुट होकर आतंकवाद से निपटने की जरूरत है अमेरिका के स्पोक पर्सन 14 फरवरी 2019 को शहीद हुए उन सारे जवानों के ऊपर दुख जताते हुए कहा कि हमारी संवेदना इन के साथ हैं और घायल जवान जल्द से जल्द सही हो जाए ऐसी व कामना करते हैं। आतंकवाद से लड़ने में अमेरिका भारत का पूर्ण रूप से सहायता करेगा और अब इससे निपटने के लिए आतंकवाद तैयार रहें।

 

भारत के इतने बड़े आतंकी हमले के बाद पूरे भारत में दुख का माहौल है और लोग जगह-जगह कैंडल मार्च निकाल रहे हैं युवाओं में बहुत ही गुस्सा भरा हुआ है। वह जगह-जगह अपना प्रदर्शन कर रहे हैं हम सब की यही मांग है कि भारत जल्द से जल्द इसका बदला ले एक सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान को समझ नहीं आया यह सीधा सीधा नाम पाकिस्तान पर आ रहा है। क्योंकि जो आतंकी हमला हुआ जो आतंकवाद का सरगना है उसको पाकिस्तानी देखा जा रहा है इस के पूरे मामले में पाकिस्तान का बड़ा हाथ है पर फिर भी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने क्या कहा कि बिना जांच के भारत उस पर इल्जाम लगाना छोड़ दे और भारत में जो भी हमला हुआ है इससे उनका नाता नहीं है।

 

भारत में दुख का माहौल है और हर व्यक्ति हर भारतीय नागरिक यही चाहता है कि इसका बदला जल्द से जल्द लिया जाए और किस का बदला ऐसा होना चाहिए कि आतंकवादी दोबारा से करने से पहले भी सोचे उनकी दुकान से आए और हम सबको मिलकर खड़ा होने की जरूरत है ऐसा भारत के युवा चाहते हैं और भारत के युवाओं का कहना है कि इसका बदला जल्द से जल्द किया जाए और इसका बदला बहुत कड़ा होना चाहिए मोदी ने भी भारतीय सेना के जवान जो शहीद हुए हैं उनको नमन किया और उनके प्रति अपनी संवेदनाएं रखें और उन्होंने कामना की कि जल्द से जल्द घायल हुए सेना के जवान सही हो जाए।