कर्क राशि के बारें में –

कर्क राशि – इस राशि का स्वामी ग्रह चन्द्र है | ये राशियो मैं चौथे स्थान पर आता है| कर्क राशि जल तत्व की राशि होती है इसलिए जीतने भी तरलीय पदार्थ है उन पर चंद्रमा का आधिपत्य होता है| यहा तक की समुद्र मैं जो ज्वारभाटा आता है वो भी चंद्रमा क कारण ही आता है|

चंद्रमा मन का कारक माना जाता है| इसलिए अशुभ चंद्रमा मानसिक तनाव ,सूइसाइड का खयाल सब असुभ चंद्रमा के कारण ही होता है|

कर्क राशि के लोगो का रंग साफ ,काले बाल, मिडिल age मैं आते- आते ये लोग गोल-मटोल हो जाते है| ये लोग काफी बफदार, अपने परिवार के प्रति संवेदनशील और भावना प्रधान वैयक्ति होते है|

ये बहुत अछे स्टोरी रायटर होते है| इस राशि के लोग जल्दी commitment नही करते है और अगर कर दिया तो ये किसी भी हद तक जा कर अपने commitment को पूरा करते ही करते है|

कर्क राशि के लोग बड़ी बड़ी प्लानिंग कर सकते है और परिश्रमी होने के कारण उसे पूरा भी कर लेते है इसलिए ये जल्दी ही उछ पद पर पेहुच सकते है|

इस राशि के लोग बहुत अछे musician, लेखक ,नाटककर, pshycological ,व्यपारी, कलाकार, लिकिड से संबन्धित businessman होते है |

कर्क राशि का स्वामी ग्रह- चंद्रमा

ग्रह देवता- शिव जी

तत्व- जल

चिन्ह- केकड़ा

भाग्य अंक- 2,7,11,16,20,25

शुभ दिन- सोमबार

शुभ रंग- सफ़ेद, नारंगी

शत्रु राशि- मिथुन, कन्या

मित्रा राशि- सिंह , वृशिक,मीन

रत्न- मोती